Saras Kishori [Sri Krishna Chandra Thakur Ji]

Bhajan
Saras Kishori
Sri Krishna Chandra Thakur Ji
________________________________




_______________________________
________________________________


-Lyrics-
सरस किशोरी वयस् की थोरी
रति रस भोरी कीजे कृपा की कोर

श्री राधे
कीजे कृपा की कोर

साधनहीन दीन में राधे
तुम करुणामयी प्रेम अगाधे
साधनहीन दीन में राधे
तुम करुणामयी प्रेम अगाधे

काके द्वारे जाय पुकारे
कौन निहारे दीन दुखी की ओर
श्री राधे
कीजे कृपा की कोर
______________________
-Download Details-

Track Name - Saras Kishori
Voice - Krishna Chandra Thakur Ji
Tags Radha Bhajan
_______________________



-Download Link-



करत अघन नहीं नेक अघाऊँ
भजन करन में ना मन को लगाऊँ
करत अघन नहीं नेक अघाऊँ
भजन करन में ना मन को लगाऊँ

कर बरिजोरि लखि मम ओरी
तुम बिन मोरी कौन सुधारे डोर
श्री राधे
कीजे कृपा की कोर

भलो बुरो जैसो हूँ तिहारो
तुम बिन कोऊ ना हितू हमारो
भलो बुरो जैसो हूँ तिहारो
तुम बिन कोऊ ना हितू हमारो

भानु दुलारी सुध लो हमारी
शरण तिहारी हों पतितन सिर मोर

गोपी प्रेम की भिक्षा दीजे
कैसेहुं मोहे अपनों कर लीजे
गोपी प्रेम की भिक्षा दीजे
कैसेहुं मोहे अपनों कर लीजे

तौर गुन गावत दिवस बितावत
दृग बरसावत 
मैं हों भाव प्रेम विभोर
श्री राधे 
कीजे कृपा की कोर

सरस किशोरी वयस् की थोरी
रति रस भोरी कीजे कृपा की कोर
श्री राधे
कीजे कृपा की कोर
____________________________

_______________________

Read Here  - How To Download Mp3 From Youtube?
------------------------------------


Read Here - What is an Mp3 File?
____________________________

Download Lyrics & Pdf

Post a Comment

0 Comments