सुखी बसे संसार सब (देवकीनंदन महाराज)


Sukhi Base Sasar Sab
(Devkinandan Thakur Ji Maharaj)


- Details-

Track Name - Sukhi Base Sansar Sab
_______________________________


-Download Link-

[Sukhi Base Sansar Sab]




_______________________________
Download Also

[Aao Shyam Ji (Devkinandan Thakur Ji)Live]

[Divya Dampati Ki Aarti(Devkinandan Maharaj)]
______________________________________

Download pdf & lyrics

-Lyrics-
हे ईश्वर सब सुखी होँ। कोई न हो दुखारी।

सब हो निरोग भगवन, धनधान्य के भंडारी॥
सब भद्रभाव से देखैँ, सत्मार्ग के पथिक होँ।
दुखिया न कोई होवे, सृष्टि मेँ प्राणधारी॥



सुखी बसे संसार सब, दुखिया रहे न कोए।

है अभिलाषा हम सब की, भगवन पूरी होय॥


विद्या, बुद्धि, तेज बल सबके भीतर होय।

धन, धान्य, सुख से वंचित रहे न कोय॥


आपकी की भक्ति-प्रेम से मन होवै भरपूर।

राग द्वेष seसे चित मेरा कोषो भागे दूर॥


मिले भरोसा आपका हमें सदा जगदीश।

आशा तेरे नाम की बनी रहे मम ईश॥

पाप से हमें बचाइये कर के दया दयाल।

अपना भक्त बनाए के हमको करो निहाल॥


दिल में दया उदारता , मन में प्रेम अपार।

हृदय में धीरज दीनता हे मेरे करतार॥


हाथ जोड़ विनती करूँ सुनिये कृपा निधान।

साधु संगत सुख दीजिये, दया धर्म का दान॥







Read Here - What is an Mp3 File?


0/Post a Comment/Comments

और नया पुराने